ममता बनर्जी ने बांग्लादेशी एक्टर फिरदौस को चुनाव प्रचार में बुलाकर भारत की सम्प्रभुता को दी चुनौती:

ममता बनर्जी अपने अलोकतांत्रिक तरीकों के लिए मशहूर हैं पर अबकी बार यह हरकत ऐतिहासिक रूप से अलग है, पश्चिम बंगाल की रायगंज सीट पर तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार कन्हैयालाल अग्रवाल के लिए प्रचार करने के लिए बांग्लादेश ऐक्टर फिरदौस अहमद को बुलाया गया, जो निश्चित रूप से नैतिक और राष्ट्रीय दृष्टि से आपत्तिजनक है, हालाँकि भारत सरकार ने तुरंत कार्यवाही करते हुए फिरदौस को ब्लैकलिस्ट कर दिया है, और देश छोड़ने का आदेश दिया है, गृह मंत्रालय ने इससे पहले फिरदौस को लेकर पश्चिम बंगाल के फॉरनर रीजनल रजिस्ट्रेशन ऑफिसर से रिपोर्ट मांगी थी, जिसके बाद केंद्र सरकार की ओर से इस संबंध में आदेश जारी किया गया.

सवाल आखिर ममता बनर्जी को इसकी जरूरत क्यों महसूस क्यों हुई, जवाब सीधा है मुस्लिम तुष्टिकरण, रायगंज में मुस्लिम जनसँख्या अधिक है जिसमे अधिकतर अवैध रूप से रहने वाले बांग्लादेशी हैं, जिनको सम्बोधित करने के लिए फिरदौस को बुलाया गया था, वोटों के लिए ममता बनर्जी किसी भी हद तक जा सकतीं है चाहे वो देश के हितों के ही खिलाफ क्यों न हो और यही ममता बनर्जी ने किया.

हम उम्मीद करते हैं की इलेक्शन कमीशन TMC पर कड़ी कार्यवाही करेगा

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *