मनोहर पर्रिकर – एक अविस्मरणीय, राष्ट्रवादी,सदाचारी व्यक्तित्व, भाजपा और देश की अपूरणीय क्षति:

मनोहर पर्रिकर की मृत्यु से पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गयी है, पार्टी लाइन से हट कर लगभग सभी पार्टियों के नेताओं ने उनके निधन पर शोक प्रकट कर रहे हैं. खबरों के अनुसार पूरे गोवा में शोक की लहर दौड़ गयी है. पूरे गोवा में इस वक्त सन्नाटा पसर गया है.

IIT मुंबई से उन्होंने इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री प्राप्त की थी. वो बचपन से ही RSS से जुड़े रहे थे. RSS की विचारधारा की वजह से ही उनके जीवन में सादगी का बेहद असर था. 2013 में उन्होंने ही सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम प्रधानमंत्री पद के लिए आगे बढ़ाया था. इसी वजह से प्रधानमंत्री मोदी और मनोहर पर्रिकर के बीच एक सम्मान का भाव था.

खबरों के अनुसार शाम 5 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जायेगा. सुबह 9:30 बजे से 11:00 बजे तक पंजिम में भाजपा कार्यालय में रखा जायेगा

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *